सिकन्दर का भारत अभियान – Alexander’s India Campaign

  • सिकन्दर Sikandar मेसीडोनिया (मकदूनिया) के क्षत्रप फिलिप का पुत्र था।
  • अपने विश्व विजय की योजना के अन्तर्गत सिकन्दर ने भारत पर आक्रमण किया।
  • झेलम तथा चिनाव के मध्यवर्ती प्रदेश के शासक पोरस (पुरु) ने सिकन्दर का प्रतिरोध किया।
  • सिकन्दर ( Sikandar ) एवं पोरस के बीच 326 ई. पू. में झेलम नदी के किनारे भीषण युद्ध हुआ, जिसमें पोरस की हार हुई।
  • इस युद्ध को ‘वितस्ता का युद्ध’ या ‘हाइडेस्पीज का युद्ध’ के नाम से जाना जाता है।
  • बाद में सिकन्दर की सेना ने व्यास नदी के आगे बढ़ने से इनकार कर दिया।
  • अन्ततः सिकन्दर को वापस लौटना पड़ा।
  • वापस लौटते समय 323 ई. पू. में बेबीलोन में सिकन्दर की मृत्यु हो गई।
सिकन्दर - Alexander
सिकन्दर – Alexander
सिकंदरमकदूनिया के शासक फिलिप का पुत्र
जन्म356 ई. पू.
भारत पर आक्रमण326 ई. पू.
पश्चिमोत्तर भारत की स्थिति28 राज्यों में विभाजित (पुरू, अभिसार, पूर्वी व पश्चिमी गांधार, कठ, सौभूति,
मालव, क्षुद्रक, अम्वष्ठ, भद्र ग्लौगनिकाय आदि।)
पोरस से युद्ध ( वितस्ता या हाइडेस्पीज का युद्ध )झेलम के किनारे, सिकंदर विजयी, पोरष की वीरता से प्रभावित हो राज्य वापस किया
यूनानी सेना का विद्रोहव्यास नदी के आगे जाने से इंकार
मगधनंद वंश के अधीन
सिकंदर की मृत्यु323 ई. पू. (भारत से लौटते समय)
राजनीतिक एकता की स्थापनापश्चिमोत्तर भारत के छोटे-छोटे राज्यों का विलय, 3 प्रांतों का गठन
भारतीय इतिहास के तिथिक्रम सहायतायूनानी इतिहासकारों ने सिकंदर के में आक्रमण की सही तिथि दी
यूनानी राज्यों की स्थापनापश्चिमी पंजाब, सिंध आदि सीमावर्ती प्रदेशों में
भारत, यूनान के बीच व्यापारिक मार्गआक्रमण से 1 जलमार्ग 3 स्थल मार्ग खुला।
भौगोलिक ज्ञानयूनानी इतिहासकारों द्वारा भारत का भौगोलिक विवरण
शासन व्यवस्थाक्षत्रप शासन प्रणाली
मुद्रायूनानी प्रभाव वाले उलूक शैली के सिक्कों का ज्ञान
भारतीय कलायूनानी शैली की मूर्तियों का निर्माण
भाषा, साहित्ययूनानी शब्द पुस्तक, कलम, फलक, सुरंग यवनिक आदि संस्कृत भाषा का शामिल
चिकित्साऔषधि विज्ञान और चिकित्सा पद्धति पर
ज्योतिषराशिचक्र, होरोस्कोप का ज्ञान, रोमक एवं पौलिस सिद्धान्तों का ज्ञान